फोटो ट्रांजिस्टर क्या होता है? | प्रतिक, संरचना और उपयोग

हेलो दोस्तों, इस आर्टिकल में आपको बताने वाला हूं कि फोटो ट्रांजिस्टर क्या होता है? (what is photo transistor in hindi), फोटो ट्रांजिस्टर का प्रतिक और संरचना, फोटो ट्रांजिस्टर के उपयोग | तो चलिए शुरू करते हैं

फोटो ट्रांजिस्टर क्या होता है?

Photo transistor एक सामान्य bipolar transistor की तरह ही होता है, इसमें base terminal नहीं होता है। Base current के स्थान पर transistor को इनपुट देने के लिए प्रकाश का उपयोग किया जाता है। Photo transistor के symborऔर structure को चित्र में दर्शाया गया है।

फोटो ट्रांजिस्टर का प्रतिक

फोटो-ट्रांजिस्टर-का-प्रतिक

फोटो ट्रांजिस्टर की संरचना

फोटो-ट्रांजिस्टर-की-संरचना

फोटो ट्राजिस्टर के structure में एक light sensitive collector base junction होता है। इस प्रकार base current के लिए ज्यादातर ed-hole pair का generation collector base region में होता है। इसलिए इस region का area भी ज्यादा होता है।

फोटो ट्रांजिस्टर के base पर कोई electrical connection नहीं होता है, इस device में light को एक input की तरह प्रयोग किया जाता है। जब इसके base पर कोई light नहीं पड़ती है, तो इसमें small leakage current ICFO प्रवाहित होती है। यह प्रवाहित होने वाली current, dark current कहलाती है।

फोटो ट्रांजिस्टर की संरचना

Dark current का मान nano ampere में होता है। जब इसके पर light पडती है, तो इसके collector base junction में electron hole pair generate होते हैं, जो कि base current (Ib)  produce करते हैं।

Base current (Ib) की value,Ic के अनुक्रमानुपाती होती है। Collector current (IC) base current की B गुना होती है। अत: collector current भी प्रकाश की तीव्रता के अनुक्रमानुपाती है।

photo transistor का biasing circuit और characteristic curve दिखाया गया है। यह curve सामान्य transistor की तरह ही collector to emitter voltage (Vcr ) और collector current (Ic) के मध्य अलग-अलग light intensity पर सम्बन्ध को प्रदर्शित करता है।

Characteristics में यह दिखाया गया है, कि जब photo transistor क collector base junction पर light intensity increase होती है, तो electron hole pair की संख्या भी बढ़ जाती है। अतः collector current (ic) भी बढ़ जाती है।

 

फोटो ट्रांजिस्टर के उपयोग

Photo transistor का अधिकतम उपयोग प्रकाशीय स्विच एवं सोलर सेल में किया जाता है।

अब आप जान गए होंगे कि फोटो ट्रांजिस्टर क्या होता है?(what is photo transistor in hindi), फोटो ट्रांजिस्टर का प्रतिक और संरचना, फोटो ट्रांजिस्टर के उपयोग | इस विषय में आपको अच्छी तरह से जानकारी मिली हो गई होगी|

उम्मीद करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी| अगर आपके मन में कोई भी सवाल या सुझाव हो तो मुझे कमेंट करके बता सकते हो मैं आपके कमेंट का जरूर जवाब दूंगा इस आर्टिकल को आपके दोस्त के साथ में भी शेयर कर सकते हो |

12 thoughts on “फोटो ट्रांजिस्टर क्या होता है? | प्रतिक, संरचना और उपयोग”

Leave a Comment